home Megic Health Benefit हस्त मैथुन करना सही है ? इसके क्या दुस्प्रभाव है ?

हस्त मैथुन करना सही है ? इसके क्या दुस्प्रभाव है ?

हस्तमैथुन(masterbate) एक सामान्य और स्वस्थ यौन गतिविधि है लेकिन कोई भी चीज़ अपनी सीमओं में रहकर ही करनी होती है अगर ये लिमिट से ज्यादा होती है तो कुछ साइड इफेक्ट्स भी देखने को मिलते है| हस्तमैथुन (masterbate) को लेकर बहुत सारे दावे किये जाते है जैसे की इससे अंधा होना, और इनमें से अधिकांश दावे झूठे होते हैं।


हस्तमैथुन (masterbate) तब होता है जब कोई व्यक्ति अपने जननांगों को यौन सुख के लिए उत्तेजित करता है, जिससे संभोग सुख हो सकता है और नहीं भी ।

हस्तमैथुन सभी उम्र के पुरुषों और महिलाओं में एक आम प्रक्रिया है और स्वस्थ यौन विकास में एक भूमिका निभाता है।

शोध में पाया गया है कि 14-17 वर्ष की आयु के किशोरों में, लगभग 74 प्रतिशत पुरुष और 48 प्रतिशत महिलाएँ हस्तमैथुन करती हैं।

बूढ़े लोगो में, लगभग 63 प्रतिशत पुरुष और 32 प्रतिशत महिलाएं 57 और 64 वर्ष की आयु के बीच हस्तमैथुन करती हैं।

लोग कई कारणों से हस्तमैथुन करते हैं। इनमें, आनंद, मस्ती और तनाव मुक्ति शामिल हैं। कुछ व्यक्ति अकेले हस्तमैथुन करते हैं, जबकि अन्य साथी के साथ हस्तमैथुन करते हैं।

इस लेख में हस्तमैथुन के संभावित दुष्प्रभावों को और हस्तमैथुन मिथकों (जूठी बाते )को बताया गया हे , यहाँ आपको कुछ हस्तमैथुन के स्वास्थ्य लाभों के बारे में भी बताया गया हे |

सबसे पहले बात कर लेते है इसके मिथक के बारे में |

 
हस्तमैथुन मिथक (masterbate myth)(जूठी बाते )


हस्तमैथुन के कई मिथक और जोखिम मौजूद हैं, हालांकि इनमें से कोई भी साबित नहीं हुआ है।
भले ही इनमें से कई को कई बार डिबेट किया गया हे , लेकिन फिर भी ये दावे विज्ञानं द्वारा प्रमाणित नही हे |

निचे बातये गए सभी कारण सिर्फ मिथक है क्योकि इसका कोई भी वैज्ञानिक प्रमाण नही है की हस्त मैथुन किसी के उपर कोई प्रतिकूल प्रभाव डालता है | इसने से कुछ मिथक ये हे –

  • अंधापन
  • हथेलियाँ में बाल आ जाना
  • नपुंसकता
  • वीर्य नही निकलना
  • लिंग का सिकुड़ना
  • लिंग का टेढ़ापन
  • कम शुक्राणु गिनती
  • बांझपन
  • मानसिक बीमारी
  • शारीरिक कमजोरी
  • कुछ जोड़ों को चिंता है कि अगर दोनों में से कोई एक हस्तमैथुन करता है, तो उनका रिश्ता असंतुष्ट हो जाता हे, यह भी एक मिथक है।

अधिकांश पुरुष और महिलाएं अकेले हो या शादी शुदा हो तब भी हस्तमैथुन करना जारी रखते हैं और वे इसे अपने रिश्ते का एक सुखद हिस्सा पाते हैं।

एक अध्ययन में पाया गया है कि जिन महिलाओं ने हस्तमैथुन किया था, उनकी शादीसुदा जिन्दगी अच्छी रही उनकी तुलना में जिन्होंने हस्तमैथुन नहीं किया |

हस्तमैथुन के दुष्प्रभाव

  • हस्तमैथुन हानिरहित है। कुछ लोग अपनी त्वचा पर झुनझुनी या जलन का अनुभव कर सकते हैं, लेकिन यह आमतौर पर कुछ दिनों में ठीक हो जाएगा।
  • यदि पुरुष अक्सर कम समय के भीतर यानि हफ्ते में ४-५ बार हस्तमैथुन करते हैं, तो उन्हें लिंग में थोड़ी सूजन का अनुभव हो सकता है जिसे एडिमा कहा जाता है
  • यह सूजन आमतौर पर कुछ दिनों के भीतर गायब हो जाती है।
  • अन्य संभावित दुष्प्रभाव (masterbate side effect)
  • कुछ लोग जो चिंता करते हैं कि हस्तमैथुन उनके धार्मिक, आध्यात्मिक या सांस्कृतिक विश्वासों के साथ टकराव कर रहा है तो आपको बता दू की ,हस्तमैथुन अनैतिक या गलत नहीं है, और आत्म-आनंद या आत्मसंतुस्टी कोई शर्मनाक काम नहीं है।

यौन संवेदनशीलता में कमी

  • आक्रामक या अत्यधिक हस्तमैथुन तकनीकों आजमाने से यौन संवेदनशीलता कम हो सकती है।
  • यदि पुरुषों के एक अप्रक्रतिक तरीके से हस्तमैथुन विधि को आजमा रहा है तो जैसे की लिंग पर बहुत अधिक पकड़ तो इससे आपकी उत्तेजना में कमी आ सकती है |इसे आप अपनी पकड़ने की तकनीक को सही करके ठीक कर सकते है |
  • , वाइब्रेटर का उपयोग करना, पुरुषों और महिलाओं दोनों में उत्तेजना और समग्र यौन कार्यशिलता को बढ़ा सकता है।
  • जो महिलाएं वाइब्रेटर का उपयोग करती हैं, उनकी योन क्रिया में सुधार हुआ है किया है, जबकि पुरुषों में erectile function.में सुधार का अनुभव किया है।

How To Get Pregnent hindi

प्रोस्टेट कैंसर

  • ये कहना पक्का नही है की क्या हस्तमैथुन प्रोस्टेट कैंसर के खतरे को बढ़ाता है या कम करता है।
  • निष्कर्ष पर पहुंचने से पहले शोधकर्ताओं को और अधिक अध्ययन करने की आवश्यकता है।
  • 2003 के एक अध्ययन से पता चला है कि जिन पुरुषों ने अपने 20 की उम्र के दौरान हर हफ्ते पांच बार से अधिक स्खलन किया था,
  • उनमें प्रोस्टेट कैंसर होने की संभावना उन लोगों की तुलना में कम थी, जिन्होंने कम बार स्खलन किया था।
  • शोधकर्ताओं ने अनुमान लगाया है कि कम जोखिम इसलिए था क्योंकि लगातार स्खलन प्रोस्टेट ग्रंथि में कैंसर पैदा करने वाले एजेंटों के निर्माण को रोकता है।
  • इसी के समान २०१६ के अध्ययन में शोधकर्ताओं को पता चला था की जिन पुरुषों ने प्रति माह 21 बार या उससे अधिक स्खलन किया, उनमें प्रोस्टेट कैंसर के विकास का जोखिम कम था।
  • इसके विपरीत, 2008 के एक अध्ययन में पाया गया कि एक आदमी 20 और 30 की उम्र के बिच लगातार यौन गतिविधि करने से उसने प्रोस्टेट कैंसर के अपने जोखिम को बढ़ा दिया, खासकर जो नियमित रूप से हस्तमैथुन करता है।

  Early Pregnancy Symptoms in Hindi

दैनिक जीवन को बाधित करना

  • कुछ मामलों में, व्यक्ति अपनी इच्छा से अधिक हस्तमैथुन करते है जिससे उनको –
  • उन्हें अपने काम, जैसे स्कूल, या महत्वपूर्ण सामाजिक घटनाओं को छोड़ देते है |
  • व्यक्ति का दैनिक कामकाज बाधित हो जाता है |
  • वे अपनी जिम्मेदारियों और अपने संबंधों को प्रभावित करते हैं
  • अगर कोई ये सोचता है कि उनके हस्तमैथुन अभ्यास से उसके जीवन में प्रतिकूल प्रभाव पड़ रहा है, तो उसे जल्द ही किसी अछे डॉक्टर से मिलना चाहिए | डॉक्टर आपको अछे से बात करके समझा सकते है की आप क्या गलती कर रहे है और आगे क्या नुकसान झेलना पड़ेगा आपको |

दोस्तों मैंने अपनी तरफ से पूरी कोशिश की है की आपको हस्त मैथुन की जो गलत जानकारिय है उनको ख़तम करने की | कुछ और भी गलत फहमी अगर आपको हो तो आप मुझे निचे कमेंट में बता सकते है | आशा करता हु मैंने आपकी पूरी सहायता की है | पोस्ट को शेयर जरुर करे |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *